मुंबई ,चीन के वुहान से शुरू हुए कोरोना वायरस का प्रकोप अब दुनियाभर में देखने को मिल रहा है. दुनिया के अलग-अलग हिस्‍सों में लोगों की जान जा रही है तो इसका आर्थिक तौर पर भी प्रभाव पड़ रहा है. इन हालातों का असर भारत के शेयर बाजार पर भी दिखा है. बीते 1 हफ्ते से कारोबार के दौरान शेयर बाजार में गिरावट का दौर जारी है. सप्‍ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को तो सेंसेक्‍स और निफ्टी ने साल की सबसे बड़ी गिरावट देखी. इस हालात में निवेशकों के 6 लाख करोड़ से अधिक की रकम डूब गई है.

शुक्रवार को सेंसेक्‍स और निफ्टी का हाल

शुक्रवार को सेंसेक्स करीब 1448 अंक कमजोर होकर 38,297.29 के स्तर पर बंद हुआ. वहीं निफ्टी 432 अंक टूटकर 11,201.80 के स्तर पर रहा. नवंबर, 2016 के बाद सेंसेक्‍स की ये सबसे बड़ी गिरावट है. वहीं शेयर बाजार में 11 साल की सबसे बड़ी साप्ताहिक गिरावट रही. बता दें कि बीते 6 कारोबारी दिन में बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों के मार्केट कैप में 11 लाख करोड़ से अधिक की कमी आई है. आसान भाषा में समझें तो 6 कारोबारी दिन में निवेशकों के 11 लाख करोड़ से अधिक डूब गए हैं.