गुजरात के अमरेली जिले के बागसारा गांव के पास एक आदमखोर तेंदुए को आखिरकार वन विभाग की टीम ने मार डाला. बताया जा रहा है कि इस तेंदुए ने आसपास के इलाकों में कई लोगों को मारा था.
गुजरात के अमरेली जिले के बागसारा गांव के पास एक आदमखोर तेंदुए को आखिरकार वन विभाग की टीम ने मार डाला. बताया जा रहा है कि इस तेंदुए ने आसपास के इलाकों में कई लोगों को मारा था. तेंदुए पर वन विभाग की टीम ने पांच राउंड फायरिंग की, जिसमें से एक गोली तेंदुए को लगी और उसकी मौत हो गई.

मौत के बाद तेंदुए को जसाधार एनिमल केयर सेंटर सेंटर में ले जाया गया, जहां तेंदुए का पोस्टमोर्टम किया गया. इस पूरे ऑपरेशन के दौरान वनकर्मियों ने तेंदुए को कई बार बेहोश करने के प्रयास किए, लेकिन तेंदुआ बेहोश नहीं हो पाया और बार-बार वो खेतो में छुपता रहा.

तेंदुआ का वनकर्मियों पर हमला

वहीं, वन विभाग पिछले एक हफ्ते में दो आदमखोर तेंदुए को पिंजरे में बंद कर चुका था. ऑपरेशन के दौरान तेंदुआ ने वनकर्मियों पर हमला किया, जिसके बाद उसे गोली मार दी गई.

बता दें कि पिछले कुछ दिनों से आदमखोर तेंदुए को पकड़ने के लिए गुजरात सरकार के वन विभाग की टीम लगी थी. कुछ दिनों से तेंदुए ने इलाके में आतंक मचा रखा था, इसलिए उसे पकड़ने के लिए एनिमल ट्रैक कैमरा भी लगाए गए थे.

बागसारा में कुछ दिन पहले तेंदुए ने गौवंश का शिकार किया था, जिसकी सीसीटीवी फुटेज सामने आई थी. इसके बाद वन विभाग की टीम लगातार तेंदुए पर नजर बनाए हुए थी. वन विभाग के मुताबिक, इस इलाके में अभी भी दो से तीन तेंदुए हो सकते हैं, जिस पर वन विभाग लगातार नजर बनाए हुए है.