राजनांदगांव (मानपुर)। छत्तीसगढ़ लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में नक्सलियों ने आईडी ब्लास्टर कर मतदान को बाधित करने की कोशिश की। इस घटना में ITBP का एक जवान घायल हुआ है।

जानकारी के मुताबिक मानपुर पुलिस डिवीजन के अंदरूनी हिस्से में नक्सलियों ने आईडी ब्लास्ट किया। एसपी कमलोचन कश्यप ने बताया कि दरअसल नक्सली बड़ी घटना को अंजाम देने की फिराक में थे, लेकिन गनीमत रही कि ये बम ठीक से ब्लास्ट नहीं हो सका। उसी दौरान ITBP के जवान सर्चिंग पर निकले थे, आईडी बम की आशंका में टीम पहले ही वहां से अलग हो गई। लेकिन कम क्षमता का ब्लास्ट हुआ और गिट्टी उछलने से ITBP के एक जवान को हाथ में मामूली चोट आई है। उन्होंने बताया कि मौके पर बम स्क्वाड को भेजा गया है। आशंका है कि नक्सलियों ने वहां और भी आईडी लगाए हों, लिहाजा BDS की ये टीम बम को डिफ्यूज करेगी।

बता दें कि इससे पहले दंतेवाड़ा में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें 2 नक्सली मारे गए, जबकि एक को पकड़ लिया गया। मारे गए नक्सलियों में से एक पर 5 लाख का इनामी था। एसीएम वर्गिस नामक ये नक्सली कमांडर था और भाजपा विधायक भीमा मंडावी पर हुए हमले का मास्टरमाइंड था। सुरक्षाबलों ने नक्सलियों के पास से एक 315 और एक बंदूक भी बरामद की। इस मुठभेड़ में मारे गए दूसरे नक्सली का नाम लिंगा था। यहां सुरक्षाबलों ने दसरू नामक एक नक्सली को हिरासत में लिया। दसरू इस मुठभेड़ में घायल हुआ है। भाजपा विधायक भीमा मंडावी 9 अप्रैल को कुआंकोंडा क्षेत्र में नक्सली हमले में मारे गए थे। इसमें विधायक मंडावी के अलावा उनका ड्राइवर और सुरक्षा में तैनात 3 जवान शहीद हो गए थे।