भोपाल । प्रदेश में कल अचानक मौसम में बदलाव आया और तेज आंधी के साथ बारिश और ओले भी गिरे। जबर्दस्त आंधी के साथ कई जिलों में पेड गिर गए। दिनभर चिलचिलाती धूप और लू के बाद तेज आंधी के साथ बारिश हुई । कुछ स्‍थानों पर ओले गिरने की भी खबर है। इंदौर में रविवार शाम को एकाएक मौसम बदला और शाम 7 बजे 30 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से हवा चली। इस कारण कुछ इलाकों में बिजली भी गुल हो गई। उसके बाद शहर के कुछ एक इलाकों में हल्की बूंदाबांदी हुई। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक प्री-मानसून गतिविधि के तहत ही शहर के मौसम में एकाएक बदलाव देखने को मिला। हालांकि मौसम विभाग ने इंदौर संभाग में गरज-चमक, बूंदाबांदी व तेज हवाएं चलने की आशंका जारी की थी। इंदौर में धूलभरी आंधी से कुछ स्‍थानों पर होर्डिंग भी गिर गए।
    खरगोन, बड़वानी और धार जिले में रविवार को आंधी, बारिश व ओले गिरे। बड़वानी के ग्राम उमर्टी में आंधी से एक मकान ढह गया। पतरे की छत उड़ गई। खरगोन के ग्राम भगवानपुरा में करीब दस मिनट तक बारिश हुई। धार सहित नालछा, बगड़ी और केसूर में आंधी, बारिश के साथ ओले गिरे। नालछा क्षेत्र में बिजली गिरने से बालक झुलस गया। इंदौर में रविवार रात को शहर के पूर्वी क्षेत्र में करीब 50 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं चली। हवाओं ने धूल भरी आंधियां चली। तेज हवाओं के कारण रेडिसन चौराहे, श्रीनगर मेन, बिचौली मर्दाना क्षेत्र में छोटा राजवाड़ा के पास करीब चार पेड़ों के गिरने की सूचना नगर निगम के कंट्रोल रूम तक पहुंची। हालांकि शहर के पश्चिमी इलाके में आंधी व तेज हवाओं का ज्यादा असर नहीं रहा।मौसम विभाग द्वारा इंदौर संभाग में इंदौर, देवास, रतलाम और उज्जैन में गरज चमक के साथ हल्की बूंदाबादी की संभावना जताई गई थी।