लोकसभा चुनाव की सरगर्मियां मध्य प्रदेश में इन दिनों शबाब पर हैं. राम मंदिर को लेकर अयोध्या में भले ही अब तक कोई परिणाम निकल नहीं पाया हो लेकिन राम मंदिर के नाम पर भोपाल का सियासी पारा जरूर बढ़ गया है. पूर्व मुख्यमंत्री और भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने ऐलान किया है कि वे भोपाल में राम मंदिर के लिए जगह देंगे.

दरअसल, दिग्विजय सिंह ने भोपाल के हमीदिया रोड स्थित राम मंदिर के सामने की जमीन को राम मंदिर को देने की घोषणा की है. यह जमीन जिला कांग्रेस के नाम पर आवंटित है. दिग्विजय सिंह हमीदिया रोड स्थित राम मंदिर में दर्शन करने पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने मंदिर में होने वाली आरती में शामिल होकर पूजा अर्चना भी की.दिग्विजय सिंह के इस ऐलान के बाद भोपाल में राम मंदिर को लेकर सियासत तेज हो गई है. हमीदिया स्थित राम मंदिर कांग्रेस के ही कार्यकाल में बनवाया गया था. मंदिर के सामने की ज़मीन कांग्रेस भवन के लिए दी गई थी लेकिन अब राम मंदिर को दे दी जाएगी. यह जमीन दिग्विजय सिंह ने राम मंदिर ट्रस्ट को देने की बात कही है.हालांकि दिग्विजय सिंह ने यह ऐलान आचार संहिता के दौरान किया है. बीजेपी ने दिग्विजय पर निशाना साधा है. प्रदेश बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल का कहना है कि चुनाव आते ही दिग्विजय खुद को हिंदूवादी दिखाने लगते हैं. उन्होंने कहा कि यह बीजेपी की ही दें है कि दिग्विजय सहित पूरी कांग्रेस इन दिनों हिंदू रंग में रंगी हुई है.