भोपाल , लोकसभा चुनाव के माहौल में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के ओएसडी के आवास पर रात 3 बजे आयकर विभाग का छापा पड़ा. मौके पर करीब 15 अध‍ि‍कारी सर्चिंग के काम में लगे हुए हैं. वहीं, देशभर में तीन राज्यों के 50 ठ‍िकानों पर आयकर व‍िभाग की छापेमारी जारी है ज‍िसमें 300 अध‍िकारी लगे हुए हैं. इस छापे के तार अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर मामले से जुड़ते हुए नजर आ रहे हैं.

कमलनाथ के ओएसडी प्रवीण कक्कड़ के व‍िजयनगर स्थित घर पर शन‍िवार-रव‍िवार की दरम्यानी रात 3 बजे आयकर विभाग ने छापेमारी की. कक्कड़ पर आय से अध‍िक संपत्त‍ि का मामला बताया जा रहा है. कक्कड़ के इंदौर में चार और भोपाल के एक ठिकाने पर छापेमारी की गई है. लंबे समय तक कमलनाथ के ओएसडी रहे आरके म‍िगलानी के द‍िल्ली के ठ‍िकानों पर भी कार्रवाई जारी है.

आयकर व‍िभाग के सूत्रों के अनुसार, आयकर विभाग के 300 अधिकार‍ियों की टीम देश भर के 50 ठ‍िकानों पर छापेमारी कर रही है. इनमें से एमपी के सीएम कमलनाथ के ओएसडी के अलावा कमलनाथ के भांजे रातुल पुरी, अमीरा ग्रुप और मोजेर बेयर पर भी छापे मारे गए हैं. इनमें से भोपाल, इंदौर, गोवा के अलावा द‍िल्ली में 35 लोकेशन पर छापेमारी की है. भोपाल में प्रतीक जोशी के यहां भारी मात्रा में रुपये बरामद हुए हैं.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रातुल पुरी, मनी लॉन्ड्रिंग मामले में फंसे हुए हैं. रातुल पुरी का नाम राजीव सक्सेना से पूछताछ के दौरान छिपा लिया गया था. राजीव सक्सेना का दुबई से अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर डील मामले में प्रत्यर्पण हुआ था.

कमलनाथ के सीएम बनते ही भूपेंद्र गुप्ता ओएसडी बने थे ज‍िन्हें हटाकर हाल ही में प्रवीण कक्कड़ को ओएसडी बनाया गया है. कक्कड़ मध्यप्रदेश पुलिस में अधिकारी थे. सालों पहले कक्कड़ ने वीआरएस ले ल‍िया था. उन्हें झाबुआ के सांसद और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष  कांतिलाल भूरिया का करीबी माना जाता है.
कक्कड़ को सराहनीय सेवाओं हेतु राष्ट्रपति पदक से सम्मानित क‍िया जा चुका है. पूर्व पुलिस अधिकारी कक्कड़ अपनी कार्यकुशलता के लिए पहचाने जाते हैं. कक्कड़ ने साल 2004 से  2011 तक भारत सरकार में केंद्रीय कैबिनेट मंत्री के विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी के रूप में भी काम किया है.