वॉशिंगटन। अमेरिका के सैन डियागो में एक दिल दहला देने वाला हादसा हुआ है। यहां के सबसे लोकप्रिय पैराग्लाइडर बंदरगाहों में से एक में दो पैराग्लाइडर हवा में टकरा गए। वे लगभग 75 फीट (23 मीटर) तक तेजी से नीचे जमीन की तरफ गिरे, जिससे उनकी मौत हो गई। मीडिया रिपोर्ट्स में गवाहों और सैन डिएगो के अधिकारियों के हवाले से इस घटना की जानकारी दी गई है।

प्रत्यक्षदर्शी 25 वर्षीय रेयान ब्लोम ने बताया कि ब्लैक बीच के ऊपर टकराने के बाद दोनों किसी टूटी हुई पत्ती की तरह जमीन की तरफ गिरे। अधिकारियों ने हादसे में जान गंवाने वाले पुरुषों की पहचान नहीं की है। उनकी आयु 61 साल और 43 साल बताई जा रही है।
सैन डिएगो लाइफगार्ड लेफ्टिनेंट रिच स्ट्रोप्की ने यूनियन-ट्रिब्यून को बताया कि एक कम अनुभवी पायलट ने उन्हें एक कठिन मोड़ दिया। उनकी कैनोपियों की लाइन्स उलझ गई थी। बताते चलें कि टॉरी पाइंस ग्लाइडरपोर्ट लंबे समय से हैंग ग्लाइडर और पैराग्लाइडर के बीच लोकप्रिय रहा है।

यहां से समुद्र के किनारे नीचे जाने वाले एक खड़ी ब्लफ के किनारे पर पैराग्लाइडर्स एक सीधी ढलान से उड़ान भरते हैं। ब्लफ फेस और समुद्री हवाएं उन्हें हवा में ऊपर बने रहने के लिए आदर्श स्थिति प्रदान करती हैं।
वर्ल्ड जरनल ऑफ इमरजेंसी मेडिसिन द्वारा साल 2015 में प्रकाशित एक लेख में कहा गया था कि अगस्त 2004 से सितंबर 2011 तक दो लाख 42 हजार 355 पैराग्लाइडिंग जंप की गई थीं। इनमें से 18 की मौत पैराग्लाइडिंग से हुई और 64 लोग दर्दनाक रूप से घायल हुए थे।