नई दिल्ली । भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने क्रिसिल की रिपोर्ट खारिज करते हुए कहा कि इससे उपभोक्ताओं का मासिक टीवी बिल बढ़ेगा नहीं, बल्कि कम होगा। क्रिसिल ने एक रिपोर्ट में कहा था कि नई व्यवस्था से उपभोक्ताओं का टीवी बिल 25 प्रतिशत तक बढ़ जाएगा। ट्राई के चेयरमैन आरएस शर्मा ने कहा कि रिपोर्ट जिन धारणाओं पर आधारित है वे गलत और अविश्वसनीय है। इस कारण रिपोर्ट का निष्कर्ष भी गलत और अविश्वसनीय है। उन्होंने कहा कि ट्राई को एक डीटीएच प्लेटफॉर्म पर ब्लैकआऊट, लंबी अवधि के पैक तथा एक से अधिक टीवी कनैक्शन संबंधी शिकायतें मिली हैं। उन्होंने कहा कि नियामक इन दिक्कतों पर गौर कर रहा है और सेवा प्रदाताओं को उचित निर्देश दे रहा है।