रायपुर। उपभोक्ता फोरम के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ रही है। इसी का नतीजा है कि अब छोटे प्रकरणों को लेकर भी लोग न्याय पाने के लिए फोरम का दरवाजा खटखटा रहे हैं। फोरम में भी लोगों की समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए जल्द फैसले सुनाए जा रहे हैं। इससे लोगों में फोरम के प्रति विश्वास बढ़ रहा है।

फोरम में एक दिलचस्प मामला पहुंचा। कचना निवासी अजय कुमार पांडेय स्वेटर का रंग उड़ने की शिकायत लेकर पहुंचे। उनकी शिकायत थी कि उन्होंने पंडरी स्थित रेडचीफ (लियन ग्लोबल प्रा.लि) से 1795 रुपये में अक्टूबर 2016 में स्वेटर खरीदा था। पहली धुलाई में स्वेटर का कलर उड़ गया। दुकानदार ने कहा था कि स्वेटर में कोई खराबी नहीं आएगी, कोई खराबी होगी तो तुरंत नया स्वेटर दिया जाएगा।
अनावेदक का तर्क था कि परिवादी ने धुलाई में गलत केमिकल का इस्तेमाल किया। परिवादी का तर्क था कि उन्होंने स्वेटर की धुलाई में इस्तेमाल होने वाले पाउडर का इस्तेमाल किया। जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोषण फोरम रायपुर के अध्यक्ष उत्तरा कुमार कश्यप, सदस्य संग्राम सिंह, सदस्य प्रिया अग्रवाल ने कहा कि परिवादी ने गलत केमिकल का उपयोग किया, ऐसा कोई साक्ष्य अनावेदक ने पेश नहीं किया।

उन्होंने कहा कि कोई भी व्यक्ति जानबूझकर किसी चीज को खराब कर बेवजह प्रकरण में नहीं पड़ेगा। फोरम के सदस्यों ने कंपनी को फटकार लगाते हुए सेवा में कमी का दोषी पाया। परिवादी को खरीदी तिथि से लेकर अदायगी दिनांक तक स्वेटर की राशि नौ फीसद ब्याज के साथ, 3000 रुपये मानसिक क्षतिपूर्ति, वाद व्यय समेत 8,248.95 रुपये अदा करने का फैसला सुनाया।