बिग बॉस सीजन 12 की विनर दीपिका कक्कड़ इब्राहिम का कहना है कि 'बिग बॉस का सफर अपने आप में बहुत बड़ी चुनौती रहा है। जब हम बाहर होते हैं तो दुनिया आपको जान बूझकर नीचा दिखाने के लिए बातें नहीं सुनाती। मैंने जो भी किया उस घर में लोगों ने फेक ही कहा। फिर चाहे खाना बनाना हो या फिर लोगों को जाकर सपोर्ट करना हो। हर बार मुझे यही कहा गया कि फेक है, यह सब स्ट्रैटजी है।' शिल्पा शिंदे के बारे में बात करते हुए दीपिका ने कहा- 'मुझे नहीं पता शिल्पा मुझसे अपसेट क्यों है? मैं उनके ओपीनियन की इज्जत करती हूं। कुछ भी आप करते तो कुछ आपको सपोर्ट करते हैं और कुछ नहीं। इसलिए वह उनके विचार हैं कि मैं फेक हूं। दर्शकों को पता है कि वह किसको जिता रहे हैं। इतने सारे लोगों से मिली हूं और सभी कह रहे हैं आपने बहुत अच्छे से खेला। इसी वजह से यह ट्रॉफी आज मेरे पास है।' जब दीपिका से पूछा गया क्या आप कलर्स की चेहरा रही हैं तो इस वजह से जीतीं? इस पर दीपिका ने कहा- 'अगर ऐसा होता तो मुझे 'झलक दिखलाजा' जीत जाना चाहिए था क्योंकि उस समय तो मैं शो कर रही थी। मुझे नहीं लगता कि बिग बॉस में कुछ भी फेक होता है।'रोमिल के बारे में दीपिका ने कहा- 'मैं उनसे बिल्कुल भी नहीं मिलना चाहूंगी और न ही बात करना चाहूंगीं। ऐसा नहीं है कि मुंह मोड़ लूंगी लेकिन सामने से कोई बात नहीं करूंगी।' दीपिका के लिए बेशक यह ट्रॉफी काफी अहमियत रखती है लेकिन इससे ज्यादा महत्वपूर्ण उनके पति शोएब और परिवार वालों के चेहरे की खुशी है।इसके साथ ही दीपिका ने कहा- 'बिग बॉस ने सिखाया कि कुछ भी हो अपने आप पर विश्वास रखना चाहिए। घर की बहुत सारी यादें हैं। 105 दिन की एक-एक याद बहुत अच्छी हैं। जब दीपिका से कहा गया श्रीसंथ ने इंटरव्यू में भी कहा कि आप कलर्स का चेहरा है इस वजह से जीतीं। इस पर दीपिका ने कहा, 'मेरा शो के अंदर भी उनसे झगड़ा हुआ था और अब भी उनसे सहमत नहीं हूं।' मालूम हो कि बिग बॉस विनर बनने के बाद दीपिका कक्कड़ लगातार मीडिया से बात कर रही हैं। हर कोई जानना चाहता है कि दीपिका ने किस स्ट्रैटजी के चलते ये शो जीता।