नई दिल्ली : एयरपोर्ट पर एयरलाइंस की तरफ से यात्रियों के साथ बदसलूकी या फिर खराब सर्विस देने की शिकायतें कई बार सामने आ चुकी हैं. हो सकता है आपको भी कभी इस तरह की परेशानी का सामना करना पड़ा हो. लेकिन सरकार की नई पहल के बाद अब एयरलाइंस ऐसा नहीं कर पाएंगी और इसके लिए उन्हें भारी जुर्माना चुकाना होगा. दरअसल सरकार नए नियम लाने की तैयारी कर रही है. नए नियम के अनुसार यात्रियों के साथ बदसलूकी या फिर खराब सेवा देने पर एयरलाइंस पर भारी भरकम जुर्माना लगेगा.

DGCA को पहले से ज्यादा शक्तिशाली बनाया जाएगा
एविएशन रेगुलेटर डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) के अधिकारों बढ़ाने के लिए जल्द नए नियम बनाने पर कदम आगे बढ़ाए जा रहे हैं. सूत्रों के अनुसार DGCA को पहले से ज्यादा शक्तिशाली बनाया जाएगा. इसके बाद एविएशन रेगुलेटर किसी भी एयरलाइन्स या फिर एयरपोर्ट के यात्रियों के साथ बदसलूकी, गलत व्यवहार, सर्विसेज में खामी होने जैसे मामलों में भारी भरकम आर्थिक जुर्माना लगा सकेगी.

अभी लाइसेंस सस्पेंशन कर सकती है डीजीसीए
फिलहाल रेगुलेटर लाइसेंस सस्पेंशन जैसे कदम उठा सकता है लेकिन हाल के कई मामलों जैसे इंडिगो एयरलाइन्स के वाकये में जहां एयरलाइन स्टॉफ ने एक यात्री के साथ दुर्व्यवहार किया. इस मामले के सामने आने के बाद DGCA ने एयरलाइन को चेतावनी ही दी थी कि ऐसी घटना दोबारा न हो. DGCA सूत्रों की माने तो ये पहली दफा होगा जब एयरलाइन या फिर एयरपोर्ट पर भारी आर्थिक जुर्माना लग सकेगा. इससे एयरलाइंस या फिर एयरपोर्ट पर भी सख्ती की जाएगी.
हालांकि अभी यह तय नहीं है कि जुर्माने की यह राशि कितनी होगी. इस पर सूत्रों की माने तो यह राशि लाखों में हो सकती है जहां पहली बार गलती करने पर 5-10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया जा सकता है. गलती दोहराने पर जुर्माने की रकम दोगुनी या इससे भी ज्यादा हो सकती है.